हो गई रहेमत तेरी

हो गई रहेमत तेरी

Posted on

ho gai rahmat teri sadguru rahmat

हो गई रहेमत तेरी
हो गई रहेमत तेरी सदगुरु रहेमत छा गई।
देखते ही देखते आँखों में मस्ती आ गई।।
गम मेरे सब मिट गये और मिट गये रंजो अलम।
जब से देखी है तेरी दीदार ए मेरे सनम।।
हो गई….
आँख तेरी ने पिलाई है मुझे ऐसी शराब।
बेखुदी से मस्त हूँ उठ गये सारे हजाब।।
हो गई…
मस्त करती जा रही शक्ल नूरानी तेरी।
कुछ पता-सा दे रही आँख मस्तानी तेरी।।
हो गई…
अब तो जीऊँगा मैं दुनियाँ में तेरा ही नाम लें।
आ जरा नैनों के सदके मुझको सदगुरु थाम ले।।
हो गई….